Hot Widget

Type Here to Get Search Results !

Lesson 05 | Roman or Latin alphabet | English Speaking Course in Hindi

Lesson 05 Roman or Latin alphabet in Spoken English Course or English Speaking Course Hindi

अब तक हम आपको अंग्रेज़ी बोलचाल ( Colloquialism ) की प्रारंभिक जानकारी दे रहे थे । अब इस पोस्ट में हम आपको उन सभी बातों से परिचित करना चाहते हैं, जिन्हें जाने बिना आप अंग्रेज़ी भाषा के व्यवहार को नहीं समझ सकते । आने वाले पोस्ट में आपको रोमन लिपि की वर्तनी, अक्षरों की बनावट, अक्षर लेखन ( Letter Writing ), रोमन लिपि में हिन्दी लेखन ( Hindi Writing ), अंग्रेज़ी स्वर-व्यंजनों के विशिष्ट उच्चारण तथा Silent Letters ( अनुच्चरित वर्णो ) आदि विषयों की आवश्यक जानकारी दी जायेगी । आइये, शुरू करें स्पोकन इंग्लिश का दूसरा लेसन ।


Introduction to Roman or Latin language, alphabet and pronunciation ( रोमन या लैटिन भाषा, वर्णमाला और उच्चारण का परिचय )


अंग्रेज़ी की लिपि रोमन ( Roman or Latin ) है, हिन्दी की देवनागरी ( Devanagari ) ।


अंग्रेजी वर्णमाला में A से Z तक कुल 26 अक्षरों ( Letters ) और गुजराती या हिंदी वर्णमाला ( Alphabet ) में अ से ह तक कुल 46 अक्षरों होते हैं ।


अंग्रेजी वर्णमाला में वर्ण ( Letters ) दो प्रकार के होते हैं ¬– बड़े ( Capital ) जैसे - A और छोटे ( Small ) जैसे - a आदि । फिर ये सभी वर्ण छापे में भिन्न भिन्न आकार के होते हैं, और लिखने मैं भिन्न भिन्न आकार के । इस प्रकार वर्ण चार प्रकार के हुए:


1. छापे के बड़े ( Capital ) वर्ण

2. छापे के छोटे ( Small ) वर्ण

3. लिखने के बड़े ( Capital ) वर्ण

4. लिखने के छोटे ( Small ) वर्ण


वर्णमाला ( Alphabet ) रोमन क्रम से

Roman or Latin alphabet Capital Letters
 
Roman or Latin alphabet Small Latters


बीच की दो पंक्तियों में लिखे जाने वाले वर्ण – a, c, e, I, m, n, o, r, s, u, v, w, x, z = 14 Letters


ऊपर की तीन पंक्तियों में लिखे जाने वाले वर्ण – b, d, h, k, l, t = 6 Letters


चार पंक्तियों में लिखे जाने वाले वर्ण – f = 1 Letters


नीचे की तीन पंक्तियों में लिखे जाने वाले वर्ण – g, j, p, q, y = 5 Letters


अं(caps)ग्रेज़ी की लिपि रोमन है । रोमन बड़ी स्टायलिश ( Stylish ) भाषा है । इसकी लिखाई ( Writing ) नियम हैं । इसके अक्षरों की चौड़ाई ( width of letters ) कम ज्यादा होती है । आप यह अभ्यास अच्छी तरह से कर लें कि कौन सा वर्ण 2, 3 या 4 पंक्तियों में लिखा जाने वाला है । पहले आप अच्छी तरह चार लाइनों वाली कापी पर अभ्यास कीजिए । जब आपका हाथ सध जाएं तो फिर यदि आप सिंगल लाइनों वाली कापी में भी लिखेंगे तो भी आपका हाथ ठीक से चलेगा ।


अभ्यास करने पर आप देखेंगे कि आपका लेख पहले से काफी सुधर रहा है । इस पोस्ट की यह सीख अपनाइए और चार लाइनों वाली कापी में एक पृष्ठ प्रतिदिन लिखिए, भले ही आप हाईस्कूल पास हों या ग्रेज्यूएट, अच्छी बात सीखने के लिए हर उम्र ठीक है । केवल पक्के इरादे की जरूरत है । लेख को सुधारने का अभियान शुरु कीजिए, हमारी शुभकामनाएं आपके साथ है ।


अंग्रेज़ी के लिखित कर्सिव ( Cursive ) अक्षर

 

Writing Cursive Alphabets in English

Remember ( याद रखें ) ✥


1. अंग्रेज़ी में बड़े ( Capital ) और छोटे ( Small ) दो तरह के वर्ण होते हैं । बड़े वर्णों का प्रयोग वाक्य के आरम्भ में, व्यक्तिवाचक संज्ञा में ( जैसे Delhi ) शब्दों के संक्षिप्त रुपों में ( जैसे Doctor के लिए Dr. ) तथा महीनों व दिनों के नाम ( जैसे March, Saturday ) आदि के लिए होता है । बड़े ( Capital ) वर्णों के होने से भाषा देखने में अच्छी लगती है ।

 

2. सोचिए, यदि अंग्रेज़ी में Capital अक्षर न होते, तो ( मैं ) के लिए ( i ) लिखा जाता, I नहीं ।

 

3. हिन्दी ( देवनागरी लिपि में ) लाइन पर शिरोरेखा डाली जाती है जबकि अंग्रेज़ी ( रोमन लिपि में ) लाइन के ठीक उपर लिखी जाती है ।


Roman or Latin alphabet ( रोमन या लैटिन वर्णमाला ) के इस Lesson 05 में अगर आपको कोई समस्या है तो आप हमें Comment Box या Contact Us पेज़ में जाकर पूछ सकते हैं और ये Lesson 05 आपको पसंद आया तो इसे आप अपने दोस्तों या मित्रों के साथ Share या WhatsApp कर सकते हैं जिससे आपके दोस्त को भी ये Lesson 05 समझने में मदद मिले ।
 

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Hollywood Movies